benefits of salt water bath: पानी में नमक मिलाकर नहाने से दूर होंगी ये बीमारियां, जानिए इसके अनगिनत फायदे – benefits of bath salts

17 Shares

कहते हैं खाना आप कितना भी टेस्टी क्यों न बना लें लेकिन जब तक उसमें नमक न हो उसमें स्वाद नहीं आता। कुछ इसी कड़ी में नमक खाने भर में ही नहीं बल्कि बॉडी की तमाम बीमारियों को दूर करने में भी काम आता है।

NBT

किचन राजा के नाम से मशहूर नमक न केवल खाने के टेस्ट को बढ़ता है बल्कि नमक में सेहत से जुड़ी भी बहुत सी खूबियां छिपी होती है। अधिकतर आपने देखा होगा कि कुछ लोग कम नमक खाना पसंद करते हैं तो कुछ लोग अधिक। लेकिन शायद ही आपने कभी ऐसा देखा हो कि कोई बिल्कुल नमक नहीं खाता। चुटकी भर से ही खाने का स्वाद बदल देने वाला नमक सोडियम और क्लोराइड का सबसे अच्छा और सीधा स्त्रोत है। ये तो बात रही खाने की अगर आपसे कोई कहें कि जनाब नमक खाने से ही नहीं बल्कि नमक के पानी में नहाने से भी ढेरों फायदे होते हैं तो शायद इस बात पर आपके लिए यकीन कर पाना थोड़ा मुश्किल हो जाएगा लेकिन हुजूर ऐसा सच है।

अगर आप अपने नहाने के पानी में थोड़ा सा नमक डालकर नहाएं तो आप कई गंभीर बीमारियों को मात दे सकते हैं। जी हां, नमक के पानी से डेली नहाने से कई रोग दूर हो जाते हैं। जब आपको शरीर की थकान उतरनी होती है तो आप गर्म पानी से नहाने के बारे में सोचते हैं। लेकिन वहीं आप इस पानी में आप थोड़ा सा नमक डाल लें तो ये आपकी बॉडी की थकान उतारने के साथ-साथ आप में चुस्ती-फुर्ती भी भर देगा। साल 1982 में में हुए एक अध्ययन में खुलासा हुआ कि नमक वाले पानी में नहाने से दर्द से राहत मिलती है और इलाज के बाद व्यक्ति जल्दी चल-फिर पाने में समर्थ हो जाता है। नमक वाले पानी में स्नान के बाद ऑस्टिआर्थराइटिस और टेंडॉन्टिस से राहत मिलती है। इसके साथ ही खुजली, अनिद्रा और स्किन संबंधी तमाम परेशानियों से भी दूर होती हैं।

NBT

नमक के पानी में नहाने के फायदे

क्या बाथ साल्ट हमारे लिए सही है…

नमक में कई तरह के घुलनशील खनिज होते हैं जो हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी हैं। नमक हमें सल्फर-कैल्शियम, सोडियम, मैग्नीशियम, सिलिकन, बोरोन, पोटैशियम, ब्राोमाइन और स्ट्रोन्शियम जैसे जरूरी मिनरल्स प्रदान करता है। इतना ही नहीं नमक वजन कम करने, स्किन को खूबसूरत बनाने, अस्थमा को खत्म करने और ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में भी मददगार है। नमक के पानी से नहाने के लिए आपका बीमार होना जरूरी नहीं है। यह क्लींजिंग और स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिहाज से भी काफी अच्छा है।

रूमेटाइड अर्थराइटिस में होगा फायदा

रूमेटाइड अर्थराइटिस एक सूजन संबंधित विकार है जिसमें न सिर्फ जोड़ों पर असर पड़ता है बल्कि शरीर के तंत्र, त्वचा, आंखों, लंग्स, दिल और खून की धमनियों पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। इस बीमारी का इलाज लंबे समय तक या जिंदगी भर चल सकता है। इस बीमारी को बहुत हद तक कम करने के लिए भी नमक के पानी का इस्तेमाल किया जाता है। इसके लिए आपको 2 कप सी साल्ट 1 बड़ा चम्मच अंगूर का तेल और 2 से चार बूंद एसेंशियल ऑइल की लेनी होगी। इसके बाद 10 मिनट के लिए इस पूरे मिक्षण को गर्म पानी में मिला दें। अब आपके नहाने का पानी पूरी तरह से तैयार है।

​सेल्टिक नमक

​सेल्टिक नमकसेल्टिक नमक एक प्रकार का सेल्टिक सॉल्‍ट है, जिसे फ्रांस में काफी पॉपुलेरिटी मिली। यह थोड़ा नम होता है। इसमें आम नमक की तुलना में सोडियम का स्तर कम होता है। वे लोग जो हाई बीपी से परेशान रहते हैं उनके लिये यह नमक काफी अच्‍छा है क्‍योंकि इसमें सोडियम कंटेंट काफी कम होता है।

​सेंधा नमकएक रिपोर्ट के अनुसार, सेंधा नमक और टेबल सॉल्‍ट स्वाद और दिखने में बहुत समान हैं। टेबल सॉल्‍ट जहां रिफाइंड की गई होती है वहीं, सेंधा नमक दरदरी पिसी हुई होती है। हालांकि, सफेद नमक में मौजूद पोटेशियम की मात्रा अधिक होने के कारण सेंधा नमक रक्तचाप को बनाए रखने में मदद करता है।


​हिमालयन पिंक सॉल्टहेल्‍थ के प्रति अलर्ट लोग आज कल हिमालयन पिंक सॉल्ट का काफी ज्‍यादा उपयोग करने लगे हैं। आयरन ऑक्साइड की उपस्थिति के कारण इस नमक का रंग गुलाबी होता है। इसमें पोटेशियम की थोड़ी सी मात्रा होती है, जो हार्ट को हेल्‍दी बनाए रखने में मदद करता है। Also read: Fatty Liver की प्रॉब्लम में कैसी होनी चाहिए आपकी डायट, क्या खाएं-क्या नहीं, जानें

​हर्ब्‍स और अन्य मसालेमार्केट में अलग प्रकार के वेराइटीज वाले नमक के अलावा आप हर्ब्‍स और मसालों का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इनमें से मिंट, रोजमेरी, तुलसी, इलायची, मिर्च, नींबू, धनिया, आदि का उपयोग भोजन में अधिक स्वाद पैदा कर सकता है। इन्‍हें खाने के बाद आपको नमक खाने की इच्‍छा नहीं होगी। इन सभी हर्ब्‍स और मसालों के स्वास्थ्य लाभ हैं, और इनके सेवन से आपके संपूर्ण स्वास्थ्य में सुधार हो सकता है।

​नींबू का रसनमक का स्‍वाद मिस कर रहे लोग खाने में नींबू की कुछ बूंद डाल सकते हैं। इससे खाने में स्‍वाद तो बढ़ेगा ही साथ में नमक की कमी भी पूरी हो जाएगी। नींबू स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से भी काफी फायदेमंद माना जाता है।

रूखी-बेजान त्वचा होगी दूर

नमक वाले पानी से नियमित स्नान स्किन को साफ करके नरम और कोमल बनाता है। नमक में निहित मैग्नीशियम स्किन में पानी को देर तक बनाए रखता है। इससे स्किन में नमी का संतुलन बना रहता है और स्किन में कसावट भी आती है। इसके लिए आपको हाफ कप मिल्क पाउडर लेना है। उसमें आधे कप की बराबर ही एप्‍सम साल्‍ट डालें। इसके साथ आप इसमें सूखे गुलाब की पत्तियों को मिलाएं साथ ही इसमें दो से चार बूंद एसेंशियल ऑइल की लें। 10 मिनट तक इसे नहाने के पानी में मिलाएं रखें और फिर आपका नहाने का पानी तैयार है।

एक्ने-पिंपल्स का होगा खात्मा

अगर आप रोज-रोज एक्ने और पिंपल्स जैसी परेशानियों से परेशान हैं तो आज ही नमक के पानी से नहाना शुरू कर दें। चाहें तो एक कप पानी में एक चम्मच समुद्री नमक डालकर रुई की मदद से चेहरे के प्रभावित हिस्से पर लगाएं। लेकिन साथ ही अपनी डाइट पर भी ध्यान रखें। इसके लिए आपको 2 बड़े चम्मच एप्‍सम साल्‍ट लेना है। अब एप्‍सम साल्‍ट को गर्म पानी में मिलाएं और अपनी आंखों को बचाते हुए धीरे-धीरे फेस के चारों तरफ अप्लाई करें। कुछ दिन ऐसा रोज करने से आपको जल्द इससे छुटकारा मिल जाएगा।

NBT

नमक के पानी में नहाने से होंगे ये फायदे

तेजी से होगा वजन कम

आजकल की भागदौड़ वाली जिंदगी में हर दूसरा इंसान बढ़ते हुए वजन से परेशान है। लाख कोशिशों के बाद भी वजन कम होने का नाम नहीं लेता। ऐसे में बहुत हद तक नमक के पानी से नहाना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए करना आपको इतना है कि आप छोटे से अदरक के टुकड़े को क्रश कर लें और इसमें दो चम्मच एप्‍सम साल्‍ट मिलाएं। ऐसा हर रोज करने से आपकी बॉडी में चुस्ती आएगी और अदरक आपके जाम हुए पोर को खोलने में मदद करेगा जो बहुत हद तक बढते हुए वजन का कारण हैं।

बढ़ाए इम्यूनिटी

नमक के पानी में नहाने से हम खुद को उन मिनरल्स के लिए एक्सपोज करते हैं, जो हमें बीमारी से दूर रखने में मदद करते हैं। शारीरिक गतिविधि की तरह ही नमक वाला पानी एंटी-इंफ्लेमेटरी होता है, जो हमारे शरीर को ताकत प्रदान करता है। नमक वाले पानी में मौजूद एंटी बैक्टीरियल गुण खतरनाक माइक्रोब्स को दूर करने में भी मददगार हैं। साथ ही साथ नमक के पानी में नहाने में शरीर को चुस्ती मिलती है।

Source link

17 Shares

Related Post:



Leave a Reply