यूरिक एसिड: घर बैठे यूरिक एसिड को शरीर से करें कम, कई खतरों की है जड़ – uric acid causes treatment diet reduce uric acid level naturally

यूरिक एसिड हाई ब्लड प्रेशर से लेकर जोड़ों में दर्द समेत कई तकलीफों को न्योता देता है, ऐसे कोई परेशानी आपको न लगे और अगर यूरिक एसिड बढ़ जाए तो इसे कैसे कम किया जाए, जानें इस पोस्ट में

NBT

यूरिक एसिड के लक्षण या इसे ठीक करने के उपाय बताने से पहले आपको बता देते हैं कि यूरिक एसिड होता क्या है? यूरिक एसिड हमारे शरीर में प्यूरिन वाले खाने के पाचन से बना प्राकृतिक वेस्ट प्रोडक्ट होता है। इसके शरीर में बढ़ जाने से कई समस्याएं जन्म ले लेती हैं। आपके शरीर में प्यूरिन बनते और टूटते हैं और कुछ ऐसे फूड भी होते हैं, जिनमें प्यूरिन की अधिक मात्रा होती है। कुछ तरह के मीट, बीन्स, बियर आदि में प्यूरीन की अधिक मात्रा होती है। आमतौर पर आपका शरीर यूरिक एसिड को यूरिन और किडनी के जरिये फिल्टर कर देता है, लेकिन अगर आप अपने खाने में प्यूरिन की अधिक मात्रा लेते हैं या आपकी बॉडी इसको फिल्टर नहीं कर पाती तो यह आपके खून में बढ़ने लग जाता है। यूरिक एसिड के बढ़ने को Hyperuricemia भी कहा जाता है। इससे Gout नाम की बीमारी लग सकती है जिससे जोड़ों में दर्द उठता है। यह आपके खून और यूरिन को काफी एसिडिक भी बना सकता है। किन कारणों से होता है यूरिक एसिड? यूरिक एसिड के आपके शरीर में बढ़ने के कई कारण हो सकते हैं :

NBT


  • जेनेटिक्स
  • गलत डाइट या खान-पान
  • रेड मीट, सी फूड, दाल, राजमा, पनीर और चावल जैसे खाने से भी यह बढ़ सकता है।
  • अधिक समय तक खली पेट रहना भी एक कारण हो सकता है।
  • डायबिटीज के मरीजों को हो सकता है यूरिक एसिड
  • मोटापा
  • स्ट्रेस

यूरिक एसिड को प्राकृतिक तरीके से भी कम किया जा सकता है: प्यूरिन युक्त खाने में करें कमी: अपनी डाइट में यूरिक एसिड की मात्रा की सीमा रखें। जिन फूड में प्यूरिन की मात्रा अधिक है, उसे लेना कम कर दें। मीट, सी फूड आदि पाचन के बाद अधिक मात्रा में यूरिक एसिड का निर्माण करते हैं।

NBT

इस तरह के खाने से परहेज करें:

  • मीट
  • पोर्क
  • टर्की
  • मछली
  • मटन
  • मटर
  • मशरुम

प्यूरिन की मात्रा कम करने के लिए अपनी डाइट में इन बातों का रखें ख्याल:

NBT

चीनी युक्त भोजन से करें परहेज : यूरिक एसिड अधिकतर प्रोटीन-रिच फूड में ही होता है, लेकिन हाल ही में हुई स्टडीज में चीनी को भी इसका कारण पाया गया है। रिफाइंड या प्रोसेस्ड फूड में भी चीनी की अधिक मात्रा पाई जाती है। इस तरह के खाने से यूरिक एसिड के बढ़ने की सम्भावना अधिक रहती है। एडेड शुगर के लिए फूड लेबल देखना न भूलें।

चीनी युक्त पेय : चीनी वाले ड्रिंक्स, सोडा और यहां तक कि फ्रेश फ्रूट जूस में भी फ्रुक्टोस और ग्लूकोस होता है। फ्रुक्टोस अन्य शुगर के मुकाबले तेजी से एब्सॉर्ब होता है। यह जितनी तेजी से एब्सॉर्ब होता है, उतनी ही तेजी से ब्लड-शुगर लेवल और यूरिक एसिड को भी बढ़ाता है। चीनी युक्त पेय की जगह फिलटर्ड पानी या फाइबर की प्रचुर मात्रा वाले स्मूदीज लें।


खूब पानी पीएं : अधिक मात्रा में पानी पीने से किडनी से यूरिक एसिड तेजी से निकलता है। अपने साथ हमेशा पानी की बोतल रखें। अपने फोन में पानी के रिमाइंडर भी लगा सकते हैं।

NBT

अपनी डाइट में फाइबर करें एड: डाइट में फाइबर की मात्रा अधिक होने से यूरिक एसिड से छुटकारा मिल सकता है। फाइबर ब्लड-शुगर लेवल को भी कंट्रोल करता है। यह ओवरईटिंग होने से भी बचाता है। ड्राई फ्रूट, फ्रोजन सब्जियां, ओट्स, नट्स आदि में 5 से 10 ग्राम सॉल्युबल फाइबर एड कर लें।

अच्छी नींद लेना भी जरूरी

  • सोने से 2 से 3 घंटे पहले से डिजिटल स्क्रीन का इस्तेमाल बंद कर दें।
  • अपने सोने और जगने का समय और नियम बना लें
  • लंच के बाद कैफीन न लें

डाइट, एक्सरसाइज और अच्छे लाइफस्टाइल से कई बीमारियों से ऐसे ही बचा जा सकता है। इसके अलावा, डॉक्टर द्वारा बताई गई दवाई लेना भी जरूरी है। ऐसे तो कई सारे फूड हैं जिनकी मदद से यूरिक एसिड के लेवल को काम किया जा सकता है। इसका बेस्ट तरीका है कि आप साप्ताहिक प्लान बना लें। अपनी लिस्ट में ऐसे बनाएं जो आप खा सकते हैं।

Web Title uric acid causes treatment diet reduce uric acid level naturally(News in Hindi from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

Related Post:



Leave a Reply